‘ट्रैन-18’ रेलवे का आधुनिकीकरण की ओर एक क़दम

3
334
‘ट्रैन-18’ रेलवे का आधुनिकीकरण की ओर एक क़दम
Source: Financialexpresr

 

जब भी भारतीय रेलवे का नाम आता है, ज़हन में धीमी गति से चली आ रही रेल का चित्र उभर आता है। किन्तु अब यह एक बीती याद की तरह हमारी यादों की डायरी में क़ैद होने वाला है। भारतीय रेल कोच फ़ैक्टरी पूरी तरह से तैयार है विदेशी अत्याधुनिक तकनीक पर तैयार की गई अपने आविष्कार ‘ ट्रेन 18’ के साथ । इस ट्रेन की ख़ास बात है कि यह बिना इंजन की होगी, साथ ही इसमें मैट्रो की भाँति स्लाइडिंग डोर, आधुनिक सीटें व लगभग 20% तक यात्रा के समय में कटौती करने वाली होगी। ऐसा माना जा रहा है कि इस ट्रेन के माध्यम से प्रत्येक स्टेशन पर 10 मिनट का कम से कम बचाव होगा जो कि समयबद्धता को भी सुनिश्चित करेगा।

भारतीय रेलवे में निरंतर बढ़ रहे रेल हादसे रेलवे में आधुनिकता की कमी को लगातार दर्शातें हैं। भारतीय रेलवे परिवहन के एक उत्तम साधन के रूप में विश्वविख्यात है । यात्रियों की सुरक्षा व संरक्षा का दायित्व भारतीय रेलवे द्वारा पूर्ण ईमानदारी व दक्षता से निभाना ही इससे इसके यात्रियों की आशा है।

आधुनिकता की दिशा में ट्रेन 18 एक सराहनीय क़दम है । आशा है कि यह आविष्कार रेलवे और यात्रियों की आशाओं पर खरी उतरे ।

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here